सूरजपुर जिला

सूरजपुर जिला भारत के छत्तीसगढ़ राज्य का एक जिला है. इस जिले का मुख्यालय सूरजपुर में स्थित है. यह छत्तीसगढ़ के उत्तरी हिस्से में स्थित है

सूरजपुर जिला

सूरजपुर भारत के छत्तीसगढ़ राज्य का एक जिला है. इस जिले का मुख्यालय सूरजपुर में स्थित है. यह छत्तीसगढ़ के उत्तरी हिस्से में स्थित है.

इस जिले के उत्तर-पश्चिम में मध्य प्रदेश, उत्तर में उत्तर प्रदेश, उत्तर-पूर्व में बलरामपुर जिला, दक्षिण पूर्व सरगुजा जिला, दक्षिण में कोरबा जिला तथा पश्चिम में कोरिया जिला स्थित है.

यह भी देखे :- सुकमा जिला

जिले का इतिहास

इस जिले का इतिहास अधिक प्राचीन नहीं है, क्योंकि इस जिले का गठन 15 अगस्त 2011 को ही सुरगुजा जिले को विभाजित कर किया गया था. इससे पहले यह सुरगुजा जिले के अंतर्गत एक तहसील हुआ करता था.

सूरजपुर जिला
सूरजपुर जिले का नक्शा
यह भी देखे :- राजनांदगांव जिला

सामान्य परिचय

नामजानकारी
जनसँख्या789043
जनसँख्या घनत्व 283/वर्ग किमी
क्षेत्रफल2,786.68 वर्ग किमी
साक्षरता60.95%
लिंगानुपात980 
विधानसभा सदस्य संख्या2
विकास दर 25.49%
यह भी देखे :- रायगढ़ जिला

सूरजपुर FAQ

Q 2. सूरजपुर का मुख्यालय कहाँ स्थित है?

Ans – सूरजपुर का मुख्यालय सूरजपुर में स्थित है.

Q 3. सूरजपुर जिला छत्तीसगढ़ किस हिस्से में स्थित है?

Ans – सूरजपुर जिला छत्तीसगढ़ के उत्तरी हिस्से में स्थित है.

Q 4. सूरजपुर की जनसँख्या कितनी है?

Ans – सूरजपुर की जनसँख्या 789043 है.

Q 5. सूरजपुर जिले का जनसँख्या घनत्व कितना है?

Ans – सूरजपुर जिले का जनसँख्या घनत्व  283 है.

Q 6. सूरजपुर का क्षेत्रफल कितना है?

Ans सूरजपुर का क्षेत्रफल 2,786.68 वर्ग किमी है.

Q 8. सूरजपुर का लिंगानुपात कितना है?

Ans – सूरजपुर का लिंगानुपात 980 है.

Q 9. सूरजपुर में विधानसभा सदस्य संख्या कितनी है?

Ans – सूरजपुर में विधानसभा सदस्य संख्या 2 है.

Q 10. सूरजपुर की विकास दर कितनी है?

Ans – सूरजपुर की विकास दर 25.49% है.

लेख को पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद | अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने रिश्तेदारों व मित्रों के साथ में शेयर करना मत भूलना…..

यह भी देखे :- रायपुर जिला

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment