पाल राजवंश | Pala Dynasty

पाल राजवंश | Pala Dynasty | मध्यकालीन उत्तर भारत का सबसे शक्तिशाली और महत्वपूर्ण साम्राज्य पाल साम्राज्य को माना जाता है. 750-1174 ई. तक पाल साम्राज्य चला था

पाल राजवंश | Pala Dynasty

मध्यकालीन उत्तर भारत का सबसे शक्तिशाली और महत्वपूर्ण साम्राज्य पाल साम्राज्य को माना जाता है. 750-1174 ई. तक पाल साम्राज्य चला था। पाल क्षत्रिय राजवंश भी पाल राजवंश को कहा गया है ।

भारत के पूर्वी भाग में एक विशाल साम्राज्य इस राजवंश ने बनाया था | वास्तु कला को इस राज्य में बहुत बढावा मिला था। बौद्ध धर्म को पाल राजाओं के शासनकाल में बहुत बढावा मिला था।

पाल वंश के शासक हिन्दू थे किन्तु वे बौध्द धर्म को भी मानते थे । बौद्ध धर्म को पाल राजाओं के समय में बहुत संरक्षण मिला। बौद्ध धर्म के उत्थान के लिए पाल राजाओं ने बहुत से कार्य किये जो कि इतिहास में अंकित है।

यह भी देखे :- चंदेल राजवंश | Chandela Dynasty

पाल राजाओं ने शिक्षा के लिए विश्वविद्यालयों का निर्माण तथा हिन्दू धर्म को आगे बढ़ने के लिए शिव मंदिरों का निर्माण करवाया था.

पाल राजवंश | Pala Dynasty
पाल राजवंश | Pala Dynasty

पाल वंश का संथापक गोपाल था. पाल वंश की स्थापना 750 ई. में हुई थी. पाल वंश की राजधानी मुंगेर थी. गोपाल ने ओदंतपुरी विश्वविद्यालय की स्थापना की थी. पाल वंश का सबसे महान शासक धर्मपाल था, इसने विक्रमशिला विश्वविद्यालय की स्थापना की थी.

See also  कछवाहा राजवंश

कन्नौज के लिए त्रिपक्षीय संघर्ष पाल वंश, गुर्जर प्रतिहार वंश व राष्ट्रकूट वंश के मध्य हुआ था. इस त्रिपक्षीय संघर्ष में पाल वंश की ओर से सर्वप्रथम धर्मपाल सम्मलित हुआ था.

ग्यारहवी सदी के गुजरती कवि सोड्ठल ने धर्मपाल को उत्तरापथ स्वामी की उपाधि से संबोंधित किया था. सोमपुर महाविहार का निर्माण धर्मपाल ने करवाया था. ओदंतपुरी के प्रसिद्ध बौद्ध मठ का निर्माण देवपाल ने करवाया था.

जावा के शैलेंद्रवंशी शासक बाल्पुत्र देव के अनुरोध पर देवपाल ने उसे नालंदा में एक बौद्ध विहार बनावने के लिए पांच गाँव दान दिए थे. गौड़ीरीती नामक साहित्यिक विद्या का विकास पाल शासकों के समय हुआ था.

यह भी देखे :- कश्मीर के राजवंश | dynasty of Kashmir

पाल वंश की वंशावली

  1. गोपाल प्रथम [750 ई. से 770 ई.]
  2. धर्मपाल [770 ई. से 810 ई.]
  3. देवपाल [810 ई. से 850 ई.]
  4. विग्रहपाल [850 ई. से 860 ई.]
  5. नारायणपाल [860 ई. से 915 ई.]
  6. गोपाल द्वितीय [940 ई. से 957 ई.]
  7. महिपाल प्रथम [978 ई. से 1030 ई.]
  8. नयपाल [1030 ई. से 1055 ई.]
  9. महिपाल द्वितीय [1070 ई. से 1075 ई.]
  10. रामपाल [1075 ई. से 1120 ई.]
  11. गोपाल तृतीय [1145 ई.]
  12. मदनपाल [1144 ई. से 1162 ई.]
  13. गोविन्द पाल [1162 ई. से 1174 ई.]
यह भी देखे :- चालुक्य राजवंश | Chalukya dynasty

पाल राजवंश FAQ

Q 1. मध्यकालीन उत्तर भारत का सबसे शक्तिशाली और महत्वपूर्ण साम्राज्य किस साम्राज्य को माना जाता है?
See also  भारत की वैदिक सभ्यता part 1

Ans मध्यकालीन उत्तर भारत का सबसे शक्तिशाली और महत्वपूर्ण साम्राज्य पाल साम्राज्य को माना जाता है.

Q 2. पाल साम्राज्य कब तक चला था?

Ans . 750-1174 ई. तक पाल साम्राज्य चला था.

Q 3. पाल राजवंश को ओर क्या नाम भी दिया गया है?

Ans पाल क्षत्रिय राजवंश भी पाल राजवंश को कहा गया है.

Q 4. किस धर्म को पाल राजाओं के शासनकाल में बहुत बढावा मिला था?

Ans बौद्ध धर्म को पाल राजाओं के शासनकाल में बहुत बढावा मिला था.

Q 5. पाल वंश के शासक किस धर्म के अनुनायी थे?

Ans पाल वंश के शासक हिन्दू धर्म के अनुनायी थे.

Q 6. पाल वंश का संथापक कौन था?

Ans पाल वंश का संथापक गोपाल था

Q 7. पाल वंश की स्थापना कब हुई थी?

Ans पाल वंश की स्थापना 750 ई. में हुई थी.

Q 8. पाल वंश की राजधानी कहाँ स्थित थी?

Ans पाल वंश की राजधानी मुंगेर थी.

Q 9. ओदंतपुरी विश्वविद्यालय की स्थापना किसने की थी?

Ans गोपाल ने ओदंतपुरी विश्वविद्यालय की स्थापना की थी.

See also  शाकम्भरी एवं अजमेर के चौहान राजवंश
Q 10. पाल वंश का सबसे महान शासक कौन था?

Ans पाल वंश का सबसे महान शासक धर्मपाल था.

Q 11. विक्रमशिला विश्वविद्यालय की स्थापना किसने की थी?

Ans विक्रमशिला विश्वविद्यालय की स्थापना धर्मपाल ने की थी.

Q 12. कन्नौज के लिए त्रिपक्षीय संघर्ष किन किन वंशों के मध्य हुआ था?

Ans कन्नौज के लिए त्रिपक्षीय संघर्ष पाल वंश, गुर्जर प्रतिहार वंश व राष्ट्रकूट वंश के मध्य हुआ था.

Q 13. त्रिपक्षीय संघर्ष में पाल वंश की ओर से सर्वप्रथम कौन सम्मलित हुआ था?

Ans त्रिपक्षीय संघर्ष में पाल वंश की ओर से सर्वप्रथम धर्मपाल सम्मलित हुआ था.

Q 14. सोमपुर महाविहार का निर्माण किसने करवाया था?

Ans सोमपुर महाविहार का निर्माण धर्मपाल ने करवाया था.

Q 15. ओदंतपुरी के प्रसिद्ध बौद्ध मठ का निर्माण किसने करवाया था?

Ans ओदंतपुरी के प्रसिद्ध बौद्ध मठ का निर्माण देवपाल ने करवाया था.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- राष्ट्रकूट वंश | Rashtrakuta dynasty 

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment