लॉर्ड विलियम बेंटिक | Lord William Bentinck

लॉर्ड विलियम बेंटिक | Lord William Bentinck | 1803 ई. में यह मद्रास का गर्वनर था. इसी के समय 1806 ई. में माथे पर जातीय चिन्ह न लगाने तथा कानों में बालियाँ न पहनने देने के कारण वेल्लोर के सैनिकों ने विद्रोह कर दिया था.

लॉर्ड विलियम बेंटिक | Lord William Bentinck

1803 ई. में यह मद्रास का गर्वनर था. इसी के समय 1806 ई. में माथे पर जातीय चिन्ह न लगाने तथा कानों में बालियाँ न पहनने देने के कारण वेल्लोर के सैनिकों ने विद्रोह कर दिया था.

यह भी देखे :- लॉर्ड कॉर्नवालिस | lord Cornwallis

1833 ई. में “चार्टर एक्ट” द्वारा बंगाल के गर्वनर जेनरल को भारत का गर्वनर जेनरल बना दिया गया था. इस प्रकार भारत का पहला गर्वनर जेनरल लॉर्ड विलियम बेंटिक हुआ था. बंगाल का प्रथम गर्वनर जेनरल वारेन हेस्टिंग था.

  • राजा राम मोहन राय के सहयोग से बेंटिक ने 1829 ई. में सती प्रथा को समाप्त कर दिया था.
  • बेंटिक ने इस प्रथा के खिलाफ कानून बनाकर 1829 ई. में धारा 17 के द्वारा विधवाओं के सती होने को अवैध घोषित कर दिया गया था.
  • अकबर मराठा पेशवाओं ने भी सती-प्रथा पर रोक लगाने का प्रयास किया था.
  • बेंटिक ने कर्नल स्लीमैन की सहयता से 1830 ई. में ठगी प्रथा को समाप्त कर दिया था.
  • ठग देवी काली की पूजा करते थे.
  • सन 1835 ई. में बेंटिक ने कलकत्ता में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की स्थापना की थी.
  • इसी के समय में मैकाले की अनुशंसा पर अंग्रेजी शिक्षा का माध्यम बनाया गया था.
  • मैकाले के द्वारा कानून का वर्गीकरण की किया गया था.
  • बेंटिक ने 1831 ई. में मैसूर तथा 1834 ई. में कुर्ग व मध्यकचेर को हड़प लिया था.
यह भी देखे :- लॉर्ड लिटन | Lord Lytton
लॉर्ड विलियम बेंटिक | Lord William Bentinck
लॉर्ड विलियम बेंटिक | Lord William Bentinck

इसने भारतीयों को उतरदायी पदों पर न्युक्त किया था. इसके समय में भारतीयों को प्रदान किया गया उच्चतम पद सदर अमीन था, जिसे 700 रु. प्रति माह की तनख्वाह मिलती थी.

बेंटिक के समय में 1833 ई. के चार्टर एक्ट द्वारा यह निश्चित किया गया की धर्म, जाति, रंग अथवा जन्म के आधार पर किसी भी व्यक्ति को कंपनी की सेवा में प्रवेश को नहीं रोका जाएगा. बेंटिक ने शिशु बालिका की हत्या पर भी प्रतिबन्ध लगा दिया था.

यह भी देखे :- लॉर्ड रिपन | lord Ripon

लॉर्ड विलियम बेंटिक FAQ

Q 1. 1803 ई. में बेंटिक कहाँ का गर्वनर था?

Ans 1803 ई. में बेंटिक मद्रास का गर्वनर था.

Q 2. किसके समय 1806 ई. में माथे पर जातीय चिन्ह न लगाने तथा कानों में बालियाँ न पहनने देने के कारण वेल्लोर के सैनिकों ने विद्रोह कर दिया था?

Ans बेंटिक के समय 1806 ई. में माथे पर जातीय चिन्ह न लगाने तथा कानों में बालियाँ न पहनने देने के कारण वेल्लोर के सैनिकों ने विद्रोह कर दिया था.

Q 3. किस एक्ट बंगाल के गर्वनर जेनरल को भारत का गर्वनर जेनरल बना दिया गया था?

Ans “चार्टर एक्ट” द्वारा बंगाल के गर्वनर जेनरल को भारत का गर्वनर जेनरल बना दिया गया था.

Q 4. “चार्टर एक्ट” कब लागू हुआ था?

Ans 1833 ई. में “चार्टर एक्ट” लागू हुआ था.

Q 5. भारत का पहला गर्वनर जेनरल कौन था?

Ans भारत का पहला गर्वनर जेनरल लॉर्ड विलियम बेंटिक हुआ था.

Q 6. बंगाल का प्रथम गर्वनर जेनरल कौन था?

Ans बंगाल का प्रथम गर्वनर जेनरल वारेन हेस्टिंग था.

Q 7. किसके सहयोग से बेंटिक ने सती प्रथा को समाप्त कर दिया था?

Ans राजा राम मोहन राय के सहयोग से बेंटिक ने सती प्रथा को समाप्त कर दिया था.

Q 8. सती प्रथा को समाप्त कब कर दिया गया था?

Ans 1829 ई. में सती प्रथा को समाप्त कर दिया था.

Q 9. बेंटिक ने कब व किसकी सहयता से ठगी प्रथा को समाप्त कर दिया था?

Ans बेंटिक ने कर्नल स्लीमैन की सहयता से 1830 ई. में ठगी प्रथा को समाप्त कर दिया था.

Q 10. ठग देवी किसकी पूजा करते थे?

Ans ठग देवी काली की पूजा करते थे.

Q 11. बेंटिक ने कलकत्ता में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की स्थापना कब की थी?

Ans सन 1835 ई. में बेंटिक ने कलकत्ता में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की स्थापना की थी.

Q 12. किसके द्वारा कानून का वर्गीकरण की किया गया था?

Ans मैकाले के द्वारा कानून का वर्गीकरण की किया गया था.

Q 13. कब व किसके समय में चार्टर एक्ट को लागु किया गया था?

Ans 1833 ई. को बेंटिक के समय में चार्टर एक्ट को लागू किया गया था.

Q 14. शिशु बालिका की हत्या पर भी किसने प्रतिबन्ध लगाया था?

Ans बेंटिक ने शिशु बालिका की हत्या पर भी प्रतिबन्ध लगा दिया था.

Q 15. किस धारा के द्वारा विधवाओं के सती होने को अवैध घोषित कर दिया गया था?

Ans धारा 17 के द्वारा विधवाओं के सती होने को अवैध घोषित कर दिया गया था.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- लॉर्ड कैनिंग | lord Canning

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published.