लॉर्ड वेलेजली | lord Wellesley

लॉर्ड वेलेजली | lord Wellesley | लॉर्ड वेलेजली बंगाल का गवर्नर 1798 से 1805 तक जनरल रहा था। अंतिम मैसूर युद्ध वेलेजली के कार्यकाल में लड़ा गया। लॉर्ड वेलेजली के नेतृत्व में 1798 में अंतिम मैसूर युद्ध लड़ा गया

लॉर्ड वेलेजली | lord Wellesley

लॉर्ड वेलेजली बंगाल का गवर्नर 1798 से 1805 तक जनरल रहा था। अंतिम मैसूर युद्ध वेलेजली के कार्यकाल में लड़ा गया। लॉर्ड वेलेजली के नेतृत्व में 1798 में अंतिम मैसूर युद्ध लड़ा गया जिसमें टीपू सुल्तान ने फ्रांस की मदद ली। हालांकि इस मदद से टीपू को कोई फायदा नहीं हुआ तथा वो युद्ध लड़ते हुए मारा गया।

युद्ध के बाद ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के मैसूर अधीन आ गया। द्वितीय मराठा युद्ध वेलेजली के काल में लड़ा गया था, इस युद्ध अंग्रेजों की विजय हुई। यह कंपनी के सबसे महत्वपूर्ण युद्धों में से एक था।

यह भी देखे :- लॉर्ड कैनिंग | lord Canning

प्रथम एंग्लो-मराठा युद्ध में मराठों की जीत हुई व दूसरे मराठा युद्ध में मराठों की हार हुई, इसका कारण मराठों के पास कोई योग्य तथा अनुभवी शासक न होना था।

1803 से 1805 तक दूसरा मराठा युद्ध लड़ा गया, इसके बाद मराठों का राज्य मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक व छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में ही रह गया.

कटक, औरंगाबाद, बालासोर, ग्वालियर, जोधपुर, जयपुर, गोहाद, भरोच, अलीगढ़, अहमदनगर, मथुरा, अजंता, दिल्ली ये सब अंग्रेजों के अधिकार में चले गए।

लॉर्ड वेलेजली | lord Wellesley
लॉर्ड वेलेजली | lord Wellesley

वेलेजली ने सहायक संधि की पद्धति शुरू की थी. भारत में सहायक का प्रयोग वेलेजली से पूर्व फ़्रांसिसी गवर्नर डुप्ले ने किया था. सहायक संधि करने वाले राज्य निम्न थे :- हैदराबाद {1798 ई.}, मैसूर {1799 ई.} तंजौर {1799 } अवध {1801 ई.} पेशवा {दिसंबर 1802 ई.} बरार व भोंसले {दिसंबर 1803 ई.} सिंधिया {1804 ई.} व अन्य सहायक संधि करने वाले राज्य जोधपुर जयपुर मच्छेड़ी, बूंदी तथा भरतपुर.

यह भी देखे :- लॉर्ड वेवेल | Lord Wavell
  • इंदौर के होल्करों ने सहायक संधि नहीं स्वीकार की थी.
  • वेलेजली ने {1800 ई.} कलकत्ता में नागरिक सेवा में भर्ती किए गए युवकों को प्रशिक्षित करने के लिए फोर्ट विलियम कॉलेज की स्थापना की, जो 1854 ई. तक अंग्रेजों को भारतीय भाषाओँ की शिक्षा देने के लिए चलता आ रहा है.
  • 1806 ई. में भारत भेजे जाने वाले प्रशासकीय अधिकारीयों की शिक्षा व प्रशिक्षण के लिए इंग्लैण्ड में हेलेबेरी में एक ईस्ट इंडिया कॉलेज खोला गया जहाँ नवयुवक प्रसशाकीय अधिकारीयों को दो वर्ष का प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई थी.

वेलेजली स्वयं को “बंगाल का शेर” कहा करता था. वेलेजली {1805 ई.} का दूसरा कार्यकाल शुरू हुआ, परन्तु शीघ्र ही उसकी मृत्यु हो गई थी.

यह भी देखे :- लॉर्ड लिनलिथगो | lord Linlithgow

लॉर्ड वेलेजली FAQ

Q 1. लॉर्ड वेलेजली बंगाल का गवर्नर कब से कब तक जनरल रहा था?

Ans लॉर्ड वेलेजली बंगाल का गवर्नर 1798 से 1805 तक जनरल रहा था.

Q 2. अंतिम मैसूर युद्ध किसके कार्यकाल में लड़ा गया था?

Ans अंतिम मैसूर युद्ध वेलेजली के कार्यकाल में लड़ा गया.

Q 3. किसके नेतृत्व में अंतिम मैसूर युद्ध लड़ा गया था?

Ans लॉर्ड वेलेजली के नेतृत्व में अंतिम मैसूर युद्ध लड़ा गया था.

Q 4. अंतिम मैसूर युद्ध कब लड़ा गया था?

Ans 1798 में अंतिम मैसूर युद्ध लड़ा गया था.

Q 5. द्वितीय मराठा युद्ध किसके काल में लड़ा गया था?

Ans द्वितीय मराठा युद्ध वेलेजली के काल में लड़ा गया था.

Q 6. द्वितीय मराठा युद्ध में किसकी विजय हुई थी?

Ans द्वितीय मराठा युद्ध में अंग्रेजों की विजय हुई थी.

Q 7. प्रथम एंग्लो-मराठा युद्ध में किसकी जीत हुई थी?

Ans प्रथम एंग्लो-मराठा युद्ध में मराठों की जीत हुई थी.

Q 8. दूसरे मराठा युद्ध में मराठों की हार का कारण क्या था?

Ans दूसरे मराठा युद्ध में मराठों की हार का कारण मराठों के पास कोई योग्य तथा अनुभवी शासक न होना था.

Q 9. दूसरा मराठा युद्ध कब लड़ा गया था?

Ans 1803 से 1805 तक दूसरा मराठा युद्ध लड़ा गया था.

Q 10. द्वितीय मराठा युद्ध के बाद मराठों का राज्य कहाँ तक रह गया था?

Ans द्वितीय मराठा युद्ध के बाद मराठों का राज्य मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक व छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में ही रह गया था.

Q 11. सहायक संधि की पद्धति किसने शुरू की थी?

Ans वेलेजली ने सहायक संधि की पद्धति शुरू की थी.

Q 12. भारत में सहायक का प्रयोग वेलेजली से पूर्व किसने किया था?

Ans भारत में सहायक का प्रयोग वेलेजली से पूर्व फ़्रांसिसी गवर्नर डुप्ले ने किया था.

Q 13. वेलेजली स्वयं को क्या कहा करता था?

Ans वेलेजली स्वयं को “बंगाल का शेर” कहा करता था.

Q 14. सहायक संधि करने वाले राज्य कौन-कौनसे थे?

Ans सहायक संधि करने वाले राज्य निम्न थे :- हैदराबाद {1798 ई.}, मैसूर {1799 ई.} तंजौर {1799 } अवध {1801 ई.} पेशवा {दिसंबर 1802 ई.} बरार व भोंसले {दिसंबर 1803 ई.} सिंधिया {1804 ई.} व अन्य सहायक संधि करने वाले राज्य जोधपुर जयपुर मच्छेड़ी, बूंदी तथा भरतपुर.

Q 15. वेलेजली का दूसरा कार्यकाल कब शुरू हुआ था?

Ans वेलेजली का दूसरा कार्यकाल 1805 ई. में शुरू हुआ था.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- लॉर्ड वेलिंगटन | lord wellington

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *