सिक्किम का इतिहास | History of Sikkim

सिक्किम का इतिहास | History of Sikkim | यह भारत के पूर्वोत्तर भाग में स्थित एक पहाड़ी राज्य है. अंगूठे के आकार का यह राज्य पश्चिम में नेपाल, उत्तर तथा पूर्व में चीनी तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र तथा दक्षिण-पूर्व में भूटान से लगा हुआ है

सिक्किम का इतिहास | History of Sikkim

यह भारत के पूर्वोत्तर भाग में स्थित एक पहाड़ी राज्य है. अंगूठे के आकार का यह राज्य पश्चिम में नेपाल, उत्तर तथा पूर्व में चीनी तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र तथा दक्षिण-पूर्व में भूटान से लगा हुआ है. हिन्दू तथा ब्रजयान बौद्ध धर्म यहाँ सिक्किम के प्रमुख धर्म है. सिक्किम की राजधानी तथा राज्य का सबसे बड़ा शहर गंगटोक है.

नाम का मूल

“सिक्किम” शब्द का सर्वमान्य स्त्रोत लिंबू भाषा के शब्द- “सु तथा ख्यिम” से मिलकर बना है. तिब्बती भाषा में सिक्किम को “चावल की घाटी” कहा जाता है.

यह भी देखे :- पश्चिम बंगाल का इतिहास

सिक्किम का इतिहास

सिक्किम का इतिहास उत्तरी सिक्किम के 13वीं शताब्दी में तिब्बती युवराज ख्ये बूमसा तथा काब लुंगत्सोक लेपचा राजा थेकॉन्ग टेक के मध्य रक्त संबंध तथा भाईचारे के समझौते पर हस्ताक्षर करने से आरंभ होता है.

See also  उत्तर सिक्किम जिला

तिब्बत के माननीय लामा संतों ने 1641 ई. में पश्चिमी सिक्किम के युकसाम नामक प्रांत की ऐतिहासिक यात्रा की तथा वहां उन्होंने सिक्किम के पहले राजा के रूप में खे-हूमसा के छठी पीढ़ी के वंशज फुंत्सोग नामग्याल का राज्याभिषेक किया. इस प्रकार सिक्किम में ‘नामग्याल’ राजवंश की स्थापना हई.

सिक्किम प्रान्त के नागरिकों ने लोकतांत्रिक प्रक्रिया को माना था. 1975 ई. में सिक्किम भारतीय गणराज्य का एक अभिन्न भाग बन गया था. सिक्किम में सम्पूर्ण समुदायों के लोग सद्भावना तथा आपसी प्रेम से निवास करते हैं. सिक्किम में कई धर्मों से जुड़े लोग हैं तथा यह भारतीय संघ में सर्वाधिक शांति तथा साम्प्रदायिक सद्भाव वाला राज्य है.

यह भी देखे :- त्रिपुरा का इतिहास

आजादी के बाद

1947 ई. में भारतीय संघ में सिक्किम को शामिल होने से रोक दिया गया तथा तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू सिक्किम हेतु एक विशेष रक्षा का दर्जा प्रदान करने के लिए सहमत हुए. 1955 में सिक्किम को संवैधानिक सरकार की अनुमति देकर एक राज्य परिषद की स्थापना की गई.

1967 ई. में चीन सेना की भारतीय सेना से नाथूला तथा चोला में झड़प हुई जिसमें चीन की हार हुई। इसके बाद 1975 ई. में सिक्किम पर भारत का अधिकार हो गया. इसे 2003 में चीन ने भी मान्यता दे दी थी.

सिक्किम का इतिहास | History of Sikkim
सिक्किम का इतिहास | History of Sikkim
  1. सिक्किम की राजधानी गंगटोक है.
  2. सिक्किम का सबसे बड़ा शहर गंगटोक है.
  3. सिक्किम की जनसँख्या 6,10,577 है.
  4. सिक्किम का क्षेत्रफल 7,096 किमी² है.
  5. सिक्कीम में 4 जिले है.
  6. सिक्किम का गठन 10 अप्रैल 1975 में हुआ था.
  7. सिक्किम में विधानसभा सदस्य संख्या 32 है.
  8. सिक्किम का वाहन अक्षर SK है.
यह भी देखे :- तेलंगाना का इतिहास

सिक्किम का इतिहास FAQ

Q 2. सिक्किम के प्रमिख धर्म कौन-कौनसे है?

Ans सिक्किम के प्रमुख धर्म हिन्दू तथा ब्रजयान बौद्ध धर्म है.

Q 3. सिक्किम की राजधानी कहाँ स्थित है?

Ans सिक्किम की राजधानी गंगटोक है.

Q 4. सिक्किम का सबसे बड़ा शहर कौनसा है?

Ans सिक्किम का सबसे बड़ा शहर गंगटोक है.

Q 5. तिब्बती भाषा में सिक्किम को क्या कहा जाता है?

Ans तिब्बती भाषा में सिक्किम को “चावल की घाटी” कहा जाता है.

Q 6. सिक्किम भारतीय गणराज्य का एक अभिन्न भाग कब बन गया था?
See also  पूर्व सिक्किम जिला

Ans 1975 ई. में सिक्किम भारतीय गणराज्य का एक अभिन्न भाग बन गया था.

Q 7. सिक्किम की जनसँख्या कितनी है?

Ans सिक्किम की जनसँख्या 6,10,577 है.

Q 8. सिक्किम का क्षेत्रफल कितना है?

Ans सिक्किम का क्षेत्रफल 7,096 किमी² है.

Q 9. सिक्कीम में कितने जिले है?

Ans सिक्कीम में 4 जिले है.

Q 10. सिक्किम का गठन कब हुआ था?

Ans सिक्किम का गठन 10 अप्रैल 1975 में हुआ था.

Q 11. सिक्किम की लोकसभा सदस्य संख्या कितनी है?

Ans सिक्किम की लोकसभा सदस्य संख्या 1 है.

Q 12. सिक्किम में राज्यसभा सदस्य संख्या कितनी है?

Ans सिक्किम में राज्यसभा सदस्य संख्या 1 है.

Q 13. सिक्किम में विधानसभा सदस्य संख्या कितनी है?

Ans सिक्किम में विधानसभा सदस्य संख्या 32 है.

Q 14. सिक्किम का वाहन अक्षर क्या है?

Ans सिक्किम का वाहन अक्षर SK है.

लेख को पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद | अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने रिश्तेदारों व मित्रों के साथ में शेयर करना मत भूलना…..

यह भी देखे :- तमिलनाडु का इतिहास

केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment