नागालैंड का इतिहास | History of Nagaland

नागालैंड का इतिहास | History of Nagaland | नागालैंड भारत के उत्तर-पूर्व में स्थित एक भारतीय राज्य है. यह 1 दिसंबर 1963 को भारत का 16वां राज्य बना था. इसकी राजधानी कोहिमा है

नागालैंड का इतिहास | History of Nagaland

नागालैंड भारत के उत्तर-पूर्व में स्थित एक भारतीय राज्य है. यह 1 दिसंबर 1963 को भारत का 16वां राज्य बना था. इसकी राजधानी कोहिमा है.

राज्य के पूर्व में म्यांमार, पश्चिम में असम, उत्तर में अरुणाचल प्रदेश तथा दक्षिण में मणिपुर से घिरा है. इस राज्य को “पूर्व का स्विजरलैंड” भी कहा जाता है. नागालैंड का कोई प्रारंभिक लिखित इतिहास उपलब्ध नहीं है.

यह भी देखे :- मिजोरम का इतिहास

नागालैंड का इतिहास

1816 ई. में जब म्यांमार के बर्मन वंश ने असम पर आक्रमण किया, तो इसके परिणामस्वरूप 1819 ई. में दमनकारी बर्मन शासन की नींव रखी गई. 1826 ई. में असम में ब्रिटिश शासन की स्थापना तक बर्मन वंश ने असम पर शासन किया था.

1947 ई. में भारत की आजादी के बाद, नागा समुदाय के लोग असम के छोटे भाग में बसे हुए थे. जबकि मजबूत राष्ट्रिय अभियान के माध्यम से नागा समुदाय के राजनीतिक संघ की भी मांग की गई. इस अभियान के चलते हुए बहुत-सी हिंसक गतिविधियाँ हुई और 1955 ई. को भारतीय सेना को व्यवस्था पुनर्स्थापित करने का भी आदेश दिया गया था.

1957 ई. में भारत सरकार व नागा के मुख्या के मध्य सहमती के बाद, असम के पहाड़ी में रहने वाले नागा तथा तुएंसंग फ्रंटियर डिवीज़न के नागाओं ने भारत के प्रशासन में एक ही छत के नीचे लाया गया था. सहमति के बावजूद भारत सरकार से असहकार, कर ना देना, तोड़-फोड़ करना तथा सेना पर आक्रमण जैसी अनेकों घटनाएँ घटित होने लगी थी.

नागालैण्ड का इतिहास | History of Nagaland
नागालैंड का इतिहास | History of Nagaland

1960 ई. में नागा लोगों के सम्मलेन बैठक में इस बात को पेश किया गया की नागालैंड, “भारतीय संघ” का हिस्सा होना चाहिए. 1963 ई. में नागालैंड को राज्य का दर्जा दिया गया था. 1964 ई. में यहाँ लोकतान्त्रिक ढंग से कार्यालय की स्थापना की गई.

यह भी देखे :- महाराष्ट्र का इतिहास 

1 दिसंबर 1963 ई. को कोहिमा को राज्य की राजधानी घोषित किया गया था.

विद्रोही गतिविधियाँ चलती रही, साथ ही क्षेत्र में डाकुओं की संख्या भी संख्या बढ़ने लगी थी. मोल भाव कर कुछ समय तक विद्रोह को रोका गया. मार्च 1975 ई. में राज्य पर प्रत्यक्ष राष्ट्रपति शासन लागू किया गया था. 1975 ई. में बड़े विद्रोह के नेताओं ने अपने हथियार डालने व भारतीय संविधान को स्वीकार करने की सहमति प्रदान की.

1980 ई. में शक्तिशाली समर्थक अलगाववादी चरमपंथी समूह तथा नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ़ नागालैंड की स्थापना की गई थी.

यह भी देखे :- मेघालय का इतिहास 

नागालैंड का इतिहास FAQ

Q 1. नागालैंड भारत के किस दिशा में स्थित है?

Ans नागालैंड भारत के उत्तर-पूर्व में स्थित है.

Q 2. नागालैंड को भारत का राज्य कब घोषित किया गया था?

Ans नागालैंड जो भारत का राज्य 1 दिसंबर 1963 को घोषित किया गया था.

Q 3. नागालैंड भारत को कौनसा राज्य बनाया गया था?

Ans नागालैंड को भारत का 16वां राज्य बनाया गया था.

Q 4. नागालैंड की राजधानी कहाँ स्थित है?

Ans नागालैंड की राजधानी कोहिमा है.

Q 5. किस राज्य को “पूर्व का स्विजरलैंड” भी कहा जाता है?

Ans नागालैंड राज्य को “पूर्व का स्विजरलैंड” भी कहा जाता है.

Q 6. नागालैंड में लोकतान्त्रिक ढंग से कार्यालय की स्थापना कब की गई थी?

Ans नागालैंड में 1964 ई. में यहाँ लोकतान्त्रिक ढंग से कार्यालय की स्थापना की गई.

Q 7. कोहिमा को राज्य की राजधानी कब घोषित किया गया था?

Ans 1 दिसंबर 1963 ई. को कोहिमा को राज्य की राजधानी घोषित किया गया था.

Q 8. राज्य पर प्रत्यक्ष राष्ट्रपति शासन कब लागू किया गया था?

Ans मार्च 1975 ई. में राज्य पर प्रत्यक्ष राष्ट्रपति शासन लागू किया गया था.

Q 9. बड़े विद्रोह के नेताओं ने अपने हथियार डालने व भारतीय संविधान को स्वीकार करने की सहमति कब प्रदान की थी?

Ans 1975 ई. में बड़े विद्रोह के नेताओं ने अपने हथियार डालने व भारतीय संविधान को स्वीकार करने की सहमति प्रदान की थी.

Q 10. अलगाववादी चरमपंथी समूह तथा नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ़ नागालैंड की स्थापना कब की गई थी?

Ans 1980 ई. में शक्तिशाली समर्थक अलगाववादी चरमपंथी समूह तथा नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ़ नागालैंड की स्थापना की गई थी.

लेख को पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद | अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने रिश्तेदारों व मित्रों के साथ में शेयर करना मत भूलना…..

यह भी देखे :- मणिपुर का इतिहास

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *