हिमाचल प्रदेश का इतिहास | History of Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश का इतिहास | History of Himachal Pradesh | हिमाचल प्रदेश भारत के उत्तर पश्चिम में स्थित एक राज्य है. इस राज्य का क्षेत्रफल 56019 किमी² है. हिमाचल प्रदेश का शाब्दिक अर्थ “बर्फीले पहाड़ों का प्रान्त” है

हिमाचल प्रदेश का इतिहास | History of Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश भारत के उत्तर पश्चिम में स्थित एक राज्य है. इस राज्य का क्षेत्रफल 56019 किमी² है. हिमाचल प्रदेश का शाब्दिक अर्थ “बर्फीले पहाड़ों का प्रान्त” है. हिमाचल प्रदेश को “देवभूमि” भी कहा जाता है. इस क्षेत्र में आर्यों का प्रभाव ऋग्वेद से भी पुराना है.

हिमाचल प्रदेश का इतिहास उतना ही पुराना है, जितना की मानव अस्तित्व का अपना इतिहास है. इस बात की सत्यता का प्रमाण हिमाचल प्रदेश के विभिन्न भागों में हुई खुदाई से प्राप्त सामग्रियों से मिलता है.

प्राचीन काल में इस प्रदेश के आदि निवासी दास, दस्यु व निषाद के नाम से जाने जाते थे. 19वीं सदी में रणजीत सिंह ने इस क्षेत्र के अनेक भागों को अपने राज्य में मिला दिया था. जब अंग्रेज यहाँ आए, तो उन्होंने गोरखा लोगों को पराजित करके कुछ राजाओं की रियासतों के अपने राज्य में मिला दिया था.

यह भी देखे :- हरियाणा का इतिहास

पूरे प्रदेश में काष्‍ठ तथा प्रस्‍तर के मंदिर बने हुए हैं. प्रदेश की समृद्ध संस्‍कृति तथा परंपराओं की कारण से यह अद्धितीय है. हिमाचल प्रदेश सौंदर्य तथा लोकगाथाओं की भूमि है। पौराणिक व्याख्याओं में इस प्रदेश को यक्षों, गंधर्वो तथा किन्‍नरों का राज्य बताया गया है. प्रागैतिहासिक काल में यहां किरात, कोल तथा नाग जातियों रहती थी.

See also  ऊना जिला

महाभारत और कुमारसंभव में इस प्रदेश की प्रशंसा की गई है. यहाँ औदुंबरों तथा कुनिंदों ने बहु-जनजातीय राज्‍य स्‍थापित किए थे. जब उत्‍तर-पश्चिम से मध्‍यकाल में आक्रमण हुए तो राजपूताना तथा उसके नजदीक के क्षेत्रों के राजवंश यहां आकर बस गए थे और उन्होंने अपनी रियासतें स्‍थापित कीं.

इन वंशों ने यहाँ के क्षेत्रीय लोगों को सभ्‍य-संस्‍कृत बनाया तथा भारतीय चित्रकला की अद्वितीय धरोहर स्‍थापत्‍य कला तथा पहाड़ी कला को प्रश्रय दिया.

हिमाचल प्रदेश का इतिहास | History of Himachal Pradesh
हिमाचल प्रदेश का इतिहास | History of Himachal Pradesh
यह भी देखे :- गोवा का इतिहास

वर्तमान हिमाचल प्रदेश का सामान्य परिचय

  • इस प्रदेश की वर्तमान में राजधानी शिमला {ग्रीष्म ऋतू} तथा धर्मशाला {शीत ऋतू} है.
  • प्रदेश की जनसँख्या 68,64,602 (2011 की जनगणना के अनुसार) है.
  • इस राज्य में 12 जिले है.
  • हिमाचल प्रदेश जनसंख्या अनुसार भारत का 20वां सबसे बड़ा राज्य तथा क्षेत्रफल अनुसार भारत का 17वां बड़ा राज्य है.
  • हिमाचल प्रदेश को 25 जनवरी 1971 को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला था.
  • यह राज्य करीब 30 रियासतों को मिलाकर बनाया गया था.
यह भी देखे :- गुजरात का इतिहास

हिमाचल प्रदेश का इतिहास FAQ

Q 2. हिमाचल प्रदेश का शाब्दिक अर्थ क्या है?

Ans हिमाचल प्रदेश का शाब्दिक अर्थ “बर्फीले पहाड़ों का प्रान्त” है.

Q 3. हिमाचल प्रदेश को और किस नाम से भी जाना जाता है?

Ans हिमाचल प्रदेश को “देवभूमि” भी कहा जाता है.

Q 4. हिमाचल प्रदेश का इतिहास कितना पुराना है?

Ans हिमाचल प्रदेश का इतिहास उतना ही पुराना है, जितना की मानव अस्तित्व का अपना इतिहास है.

Q 5. प्राचीन काल में हिमाचल प्रदेश के आदि निवासी किस नाम से जाने जाते थे?

Ans प्राचीन काल में हिमाचल प्रदेश के आदि निवासी दास, दस्यु व निषाद के नाम से जाने जाते थे.

Q 6. हिमाचल प्रदेश की वर्तमान में राजधानी कहाँ स्थित है?

Ans प्रदेश की वर्तमान में राजधानी शिमला {ग्रीष्म ऋतू} तथा धर्मशाला {शीत ऋतू} है.

See also  चम्बा जिला
Q 7. हिमाचल प्रदेश की जनसँख्या कितनी है?

Ans हिमाचल प्रदेश की जनसँख्या 68,64,602 (2011 की जनगणना के अनुसार) है..

Q 8. हिमाचल प्रदेश में कितने जिले है?

Ans हिमाचल प्रदेश में 12 जिले है

Q 9. हिमाचल प्रदेश जनसंख्या अनुसार भारत का कौनसा सबसे बड़ा राज्य है?

Ans हिमाचल प्रदेश जनसंख्या अनुसार भारत का 20वां सबसे बड़ा राज्य है.

Q 10. हिमाचल प्रदेश क्षेत्रफल अनुसार भारत का कौनसा बड़ा राज्य है?

Ans हिमाचल प्रदेश क्षेत्रफल अनुसार भारत का 17वां बड़ा राज्य है.

Q 11. हिमाचल प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा कब मिला था?

Ans हिमाचल प्रदेश को 25 जनवरी 1971 को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला था.

Q 12. हिमाचल प्रदेश कितनी रियासतों को मिलाकर बनाया गया था?

Ans हिमाचल प्रदेश करीब 30 रियासतों को मिलाकर बनाया गया था.

लेख को पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद | अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने रिश्तेदारों व मित्रों के साथ में शेयर करना मत भूलना…..

यह भी देखे :- छत्तीसगढ़ का इतिहास

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment