छत्तीसगढ़ का इतिहास | history of Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ का इतिहास | history of Chhattisgarh | छत्तीसगढ़ का प्राचीन अनम कौशल था. जो छतीस गढ़ों को अपन में समाहित करने के कारण छत्तीसगढ़ कहलाया था

छत्तीसगढ़ का इतिहास | history of Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ का प्राचीन नाम कौशल था. जो छतीस गढ़ों को अपने में समाहित करने के कारण छत्तीसगढ़ कहलाया था. छत्तीसगढ़ में मेघवंश, बाणवंश, राजर्षितुल्य कुल, पर्वद्वारक वंश, नलवंश, शरभपूरी वंश, पांडू वंश, सोमवंश-सिरपुर, काकतीय वंश, पांडू वश- मैकाल राजवंशों ने यहाँ शासन किया था.

कलचुरी शासन में गढ़ महत्वपूर्ण इकाई थी. कलचुरी शासकों ने 980 ई. से लेकर 1791 ई. तक छत्‍तीसगढ़ पर सन राज किया था.

छत्तीसगढ़ 36 गढ़ों में विभाजित था. छत्तीसगढ़ में कलचुरी वंश की दो शाखाएँ थी. छत्तीसगढ़ वैदिक व पौराणिक काल से ही विभिन्न संस्कृतियों के विकास का केंद्र रहा है. इस प्रदेश का उलेख रामायण व महाभारत में भी उपलब्ध है.

यहाँ के प्राचीन मंदिर इंगित करते है की यहाँ पर वैष्णव, शैव, शाक्त व बौद्ध के साथ-साथ अनेक संस्कृतियों का विभिन्न कालों में प्रभाव रहा है.

यह भी देखे :- असम का इतिहास 

मध्‍य प्रदेश का हिस्‍सा अलग कर बनाया गया भारत का यह राज्‍य 1 नवंबर 2000 को भारतीय संघ के 26वें राज्‍य के रूप में अस्तित्‍व में आया था. यहां के आदिवासियों की लंबे समय से चली आ रही मांग को यह राज्‍य पूरा करता है.

See also  रायपुर जिला

1854 ई. में अंग्रजों के आक्रमण के पश्चात् ब्रिटिश शासन के काल में रायपुर का महत्‍व राजधानी रतनगढ़ के बजाय बढ़ गया था.

छत्तीसगढ़ का इतिहास | history of Chhattisgarh
छत्तीसगढ़ का इतिहास | history of Chhattisgarh

1904 ई. में संबलपुर को ओडिशा में स्थानांतरित कर दिया गया तथा सरगुजा रियासत बंगाल से छत्‍तीसगढ़ के पास आ गई थी. छत्‍तीसगढ़ क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का 9वां बड़ा राज्‍य है तथा जनसंख्‍या की दृष्टि से 17वां बड़ा राज्य है. यह राज्य भारत का 26वां राज्य है.

यह राज्य भारत में तेजी से विकसित होते राज्यों में से एक है.

यह भी देखे :- अरुणाचल प्रदेश का इतिहास

छत्तीसगढ़ का इतिहास FAQ

Q 2. यह प्रदेश छत्तीसगढ़ क्यों कहलाया था?

Ans यह प्रदेश छतीस गढ़ों को अपने में समाहित करने के कारण छत्तीसगढ़ कहलाया था.

Q 3. छत्तीसगढ़ पर किन-किन राजवंशों ने शासन किया था?

Ans छत्तीसगढ़ में मेघवंश, बाणवंश, राजर्षितुल्य कुल, पर्वद्वारक वंश, नलवंश, शरभपूरी वंश, पांडू वंश, सोमवंश-सिरपुर, काकतीय वंश, पांडू वश- मैकाल राजवंशों ने यहाँ शासन किया था.

Q 4. छत्तीसगढ़ कितने गढ़ों में विभाजित था?

Ans छत्तीसगढ़ 36 गढ़ों में विभाजित था.

Q 5. छत्तीसगढ़ में कलचुरी वंश की कितनी शाखाएँ थी?

Ans छत्तीसगढ़ में कलचुरी वंश की दो शाखाएँ थी.

Q 6. इस प्रदेश का उलेख कहाँ-कहाँ उपलब्ध है?

Ans इस प्रदेश का उलेख रामायण व महाभारत में भी उपलब्ध है.

Q 7. यह राज्‍य भारतीय संघ के 26वें राज्‍य के रूप में अस्तित्‍व में कब आया था?

Ans यह राज्‍य 1 नवंबर 2000 को भारतीय संघ के 26वें राज्‍य के रूप में अस्तित्‍व में आया था.

Q 8. कलचुरी शासकों ने छत्‍तीसगढ़ पर कब तक राज किया था?

Ans कलचुरी शासकों ने 980 ई. से लेकर 1791 ई. तक छत्‍तीसगढ़ पर सन राज किया था.

See also  रायगढ़ जिला
Q 9. संबलपुर को ओडिशा में कब स्थानांतरित कर दिया गया था?

Ans 1904 ई. में संबलपुर को ओडिशा में स्थानांतरित कर दिया गया था.

Q 10. छत्‍तीसगढ़ क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का कौनसा बड़ा राज्‍य है?

Ans छत्‍तीसगढ़ क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का 9वां बड़ा राज्‍य है.

Q 11. छत्‍तीसगढ़ जनसंख्‍या की दृष्टि से कौनसा बड़ा राज्य है?

Ans छत्‍तीसगढ़ जनसंख्‍या की दृष्टि से 17वां बड़ा राज्य है.

Q 12. यह राज्य भारत का कौनसा राज्य है?

Ans यह राज्य भारत का 26वां राज्य है.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- आंध्र प्रदेश का इतिहास

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास
यह भी देखे :- बिहार का इतिहास

Leave a Comment