प्रथम विश्वयुद्ध | First world war

प्रथम विश्वयुद्ध | First world war | प्रथम विश्वयुद्ध की शुरुआत 28 जुलाई 1914 ई. को आस्ट्रिया के सर्बिया पर किए जाने के साथ शुरू हुआ था. यह युद्ध चार वर्षों तक चला था

प्रथम विश्वयुद्ध | First world war

प्रथम विश्वयुद्ध की शुरुआत 28 जुलाई 1914 ई. को आस्ट्रिया के सर्बिया पर किए जाने के साथ शुरू हुआ था. यह युद्ध चार वर्षों तक चला था. प्रथम विश्वयुद्ध का तात्कालिक कारण आस्ट्रिया के राजकुमार आर्क ड्यूक फर्डिनेंड की बोस्निया की राजधानी सेराजेवो में 28 जून 1914 ई. को की गई हत्या थी.

प्रथम विश्वयुद्ध में सम्पूर्ण विश्व दो खेमों में बंट गया था :- मित्र राष्ट्र व धुरी राष्ट्र. धुरी राष्ट्रों का नेतृत्व जर्मनी ने किया था. इसमें सम्मलित अन्य देश निम्न थे :- आस्ट्रिया, हंगरी, तुर्की, बुल्गारिया व इटली.

मित्र राष्ट्रों में इंग्लैण्ड, जापान, संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस व फ़्रांस. गुप्त संधियों की प्रणाली व यूरोप में गुटबंदी का जनक जर्मनी के चांसलर बिस्मार्क को माना जाता है.

आस्ट्रिया, जर्मनी व इटली के मध्य त्रिगुट का निर्माण 1882 ई. में हुआ था. त्रिगुट का सदस्य होने के बावजूद इटली कुछ समय तक तटस्थ और अंततः 26 अप्रैल 1915 ई. को आस्ट्रिया हंगरी व जर्मनी के खिलाफ युद्ध में सम्मलित हुआ.

यह भी देखे :- जर्मनी का एकीकरण | unification of germany
  • काला हाथ सर्बिया की गुप्त क्रांतिकारी संस्था थी.
  • रूस जापान युद्ध का अंत अमेरिकी राष्ट्रपति रूजवेल्ट की मध्यस्थता से हुआ था.
  • मोरक्को संकट 1906 ई. में पैदा हुआ था.
  • प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी ने रूस पर आक्रमण 1 अगस्त 1914 ई. में व फ़्रांस पर आक्रमण 3 अगस्त 1914 ई. में किया.
  • 4 अगस्त 1914 ई. को इंग्लैण्ड प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हुआ था.
  • 26 अप्रैल 1915 ई को इटली मित्र राष्ट्रों की ओर से प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हुआ.
  • प्रथम विश्व युद्ध के समय अमेरिका का राष्ट्रपति वुडरो विल्सन था.
  • जर्मनी के यु-बोट द्वारा इंग्लैण्ड के लुसीतानिया नामक जहाज डुबाने के बाद अमेरिका प्रथम विश्व युद्ध में शामिल हुआ, क्योंकि जहाज पर मरने वाले 1153 व्यक्तियों में से 128 व्यक्ति अमेरिका के थे.
  • जुलाई 1918 ई. में ब्रिटेन, फ़्रांस व अमेरिका ने संयुक्त अभियान शुरू किया व जर्मनी तथा उसके सहयोगी देशों की हार होने लगी. सितम्बर 1918 ई. में बुल्गारिया, अक्टूबर 1918 ई. में तुर्की व 3 नवम्बर 1918 ई. को आस्ट्रेलिया व हंगरी के सम्राट ने आत्मसमर्पण कर दिया था.
यह भी देखे :- चीनी क्रांति | Chinese revolution

जर्मन सम्राट कैंसर विलियम द्वितीय ने 10 नवम्बर 1918 ई. को अपने पद से इस्तीफा दे दिया व होलैंड भाग गया. ऐसी अवस्था में समाजवादी प्रजातांत्रिक दल ने सत्ता अपने हाथों में लेकार एकतंत्र के स्थान पर गणतंत्र की स्थापना की व अपने नेता फ्रेडरिक एबर्ट को जर्मनी का चांसलर बनाया, जिसने 11 नवमबर 1918 ई. को युद्ध विराम की संधि पर हस्ताक्षर कर दिए, जिसके परिणामस्वरूप प्रथम विश्व युद्ध समाप्त हो गया था.

See also  भारत में ब्रिटिश कंपनियों का आगमन part 1

18 जून 1919 ई. को पेरिस में शांति सम्मलेन हुआ, जिसमें 27 देश भाग ले रहे थे, मगर शांति-संधि की शर्तें केवल तीन देश – ब्रिटेन, फ्रास व अमेरिका तय कर रहे थे. पेरिस शांति-संधि की शर्तें निर्धारित करने में जिन-जिन राष्ट्रों के अध्यक्षों ने मुख्य भूमिका निभाई वे निम्न थे :- अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री लोयाड जार्ज व फ़्रांस के प्रधानमंत्री जार्ज क्लेमेसो.

प्रथम विश्वयुद्ध | First world war
प्रथम विश्वयुद्ध | First world war

वर्साय की संधि 28 जून 1919 ई. में जर्मनी के साथ हुई थी. संधि के तहत जर्मनी की सेना 1 लाख तक सीमित कर दी जाएगी. उससे वायुसेना व पनडुब्बीयां रखने का अधिकार छीन लिया गया था. जर्मनी के सारे उपनिवेश विजित राष्ट्रों ने आपस में बाँट लिए थे.

यह भी देखे :- इंग्लैंड में क्रांति | revolution in England

युद्ध के हर्जाने के रूप में जर्मनी से 6 अरब 10 करोड़ पौंड की राशि की मांग की गई थी. अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र में प्रथम विश्व युद्ध का सबसे बड़ा योगदान राष्ट्रसंघ की स्थापना थी. प्रथम विश्व युद्ध के दौरान होने वाली वर्साय की संधि में द्वितीय विश्व युद्ध का बीजारोपण हुआ था.

See also  अंग्रेजों के मैसूर से संबंध | British relations with Mysore

प्रथम विश्वयुद्ध FAQ

Q 1. प्रथम विश्वयुद्ध की शुरुआत कब हुई थी?

Ans प्रथम विश्वयुद्ध की शुरुआत 28 जुलाई 1914 ई. को हुई थी.

Q 2. प्रथम विश्वयुद्ध कितने वर्षों तक चला था?

Ans प्रथम विश्वयुद्ध चार वर्षों तक चला था,.

Q 3. प्रथम विश्वयुद्ध का तात्कालिक कारण क्या था?

Ans प्रथम विश्वयुद्ध का तात्कालिक कारण आस्ट्रिया के राजकुमार आर्क ड्यूक फर्डिनेंड की बोस्निया की राजधानी सेराजेवो में 28 जून 1914 ई. को की गई हत्या थी.

Q 4. प्रथम विश्वयुद्ध में सम्पूर्ण विश्व किन दो खेमों में बांटा गया था?

Ans प्रथम विश्वयुद्ध में सम्पूर्ण विश्व दो खेमों में बंट गया था :- मित्र राष्ट्र व धुरी राष्ट्र.

Q 5. धुरी राष्ट्रों का नेतृत्व किसने किया था?

Ans धुरी राष्ट्रों का नेतृत्व जर्मनी ने किया था.

Q 6. धुरी राष्ट्रों में सम्मलित देश कौन-कौन से थे?

Ans धुरी राष्ट्रों में सम्मलित देश निम्न थे :- आस्ट्रिया, हंगरी, तुर्की, बुल्गारिया व इटली.

Q 7. मित्र राष्ट्रों में सम्मलित देश कौन-कौन से थे?

Ans मित्र राष्ट्रों में में सम्मलित देश निम्न थे :- इंग्लैण्ड, जापान, संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस व फ़्रांस.

Q 8. मोरक्को संकट कब पैदा हुआ था?

Ans मोरक्को संकट 1906 ई. में पैदा हुआ था.

Q 9. प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी ने रूस व फ़्रांस पर आक्रमण कब किया था?
See also  लॉर्ड रीडिंग | Lord Reading

Ans प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी ने रूस पर आक्रमण 1 अगस्त 1914 ई. में व फ़्रांस पर आक्रमण 3 अगस्त 1914 ई. में किया था.

Q 10. प्रथम विश्व युद्ध के समय अमेरिका का राष्ट्रपति कौन था?

Ans प्रथम विश्व युद्ध के समय अमेरिका का राष्ट्रपति वुडरो विल्सन था.

Q 11. ब्रिटेन, फ़्रांस व अमेरिका ने संयुक्त अभियान कब शुरू किया था?

Ans जुलाई 1918 ई. में ब्रिटेन, फ़्रांस व अमेरिका ने संयुक्त अभियान शुरू किया था.

Q 12. पेरिस में शांति सम्मलेन कब हुआ था?

Ans 18 जून 1919 ई. को पेरिस में शांति सम्मलेन हुआ था.

Q 13. पेरिस शांति-संधि की शर्तें निर्धारित करने में जिन-जिन राष्ट्रों के अध्यक्षों ने मुख्य भूमिका निभाई वे कौन-कौन थे?

Ans पेरिस शांति-संधि की शर्तें निर्धारित करने में जिन-जिन राष्ट्रों के अध्यक्षों ने मुख्य भूमिका निभाई वे निम्न थे :- अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री लोयाड जार्ज व फ़्रांस के प्रधानमंत्री जार्ज क्लेमेसो.

Q 14. वर्साय की संधि कब व किसके साथ हुई थी?

Ans वर्साय की संधि 28 जून 1919 ई. में जर्मनी के साथ हुई थी.

Q 15. अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र में प्रथम विश्व युद्ध का सबसे बड़ा योगदान किसकी स्थापना थी?

Ans अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र में प्रथम विश्व युद्ध का सबसे बड़ा योगदान राष्ट्रसंघ की स्थापना थी.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- द्वितीय विश्वयुद्ध | second World War

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment