बनवीर

बनवीर | विक्रमादित्य की हत्या कर राणा रायमल के पुत्र पृथ्वीराज का अनौरस पुत्र बनवीर शासक बन बैठा। वह उदयसिंह की हत्या करना चाहता था

बनवीर

विक्रमादित्य की हत्या कर राणा रायमल के पुत्र पृथ्वीराज का अनौरस पुत्र बन वीर शासक बन बैठा। वह उदयसिंह की हत्या करना चाहता था लेकिन उसकी धाय मां पन्ना ने उदयसिंह की जगह अपने बेटे चन्दन का बलिदान दिया, जो स्वामी भक्ति का अद्वितीय उदाहरण है।

यह भी देखे :- महाराणा विक्रमादित्य
बनवीर
बनवीर
यह भी देखे :- राणा सांगा

वीरविनोद के अनुसार बन वीर ने जब देखा कि विक्रमादित्य को मारने से उसका कार्य पूरा नहीं होता, तो उसने सांगा के पाँचवे पुत्र उदयसिंह को भी मारने का प्रयत्न किया, जो मेवाड़ का वास्तविक स्वामी हो सकता था। इस भय से बचाने के लिए पन्ना धाय कुछ सरदारों के सहयोग से उदयसिंह को चित्तौड़ से निकालकर कुम्भलगढ़ ले गयी। वहां के किलेदार ‘आशा देवपुरा’ ने उसे अपने पास रखा।

यह भी देखे :- महाराणा सांगा का व्यक्तित्व

बनवीर FAQ

Q 1. विक्रमादित्य की हत्या किसने की थी?
See also  मध्यकालीन सामाजिक परिवर्तन व विशिष्ट जातियां

Ans – विक्रमादित्य की हत्या बनवीर ने की थी.

Q 2. बनवीर किसका पुत्र था?

Ans – बनवीर राणा रायमल के पुत्र पृथ्वीराज का अनौरस पुत्र था.

Q 3. धाय मां पन्ना ने उदयसिंह की जगह किस बलिदान दिया था?

Ans – धाय मां पन्ना ने उदयसिंह की जगह अपने बेटे चन्दन का बलिदान दिया था.

Q 4. चन्दन की हत्या किसने की थी?

Ans – चन्दन की हत्या बनवीर ने की थी.

Q 5. उदय सिंह को पन्ना धाय ने कुम्भलगढ़ में किसके पास रखा था?

Ans – उदय सिंह को पन्ना धाय ने कुम्भलगढ़ में किलेदार ‘आशा देवपुरा’ के पास रखा था.

See also  बंधुआ मजदूरी

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- बयाना का युद्ध

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment