अकबर का शासन काल part 3 | Akbar’s reign

अकबर का शासन काल part 3 | Akbar’s reign | अकबर के काल में स्वामी हरिदास भी एक महान संगीतज्ञ थे. ये वृन्दावन में रहकर भगवान की उपासना करते थे

अकबर का शासन काल part 3 | Akbar’s reign

एक मत के अनुसार हरिदास तानसेन के गुरु थे जबकि कुछ विद्वान् हरिदास व तानसेन दोनों को मानसिंह तोमर का शिष्य बतलाते है.

यह भी देखे :- अकबर का शासन काल part 2 | Akbar’s reign

यह भी प्रचलित है की अकबर हरिदास का गाना सुनने के लिए इनकी कुटिया में जाना पड़ा था, क्योंकि इन्होने अकबर के दरबार में जाने से मना कर दिया था. इनका कहना था की वे केवल अपने भगवान के लिए ही गाते है, क्योंकि दरबार से उनका कोई सरोकार नहीं था.

अकबर ने भगवानदास को अमीर-ए-उमरा की उपाधि दी थी. युसुफजाइयो के विद्रोह को दबाने के दौरान बीरबल की मृत्यु हो गई थी. 1602 ई. में सलीम के निर्देश पर दक्षिण से आगरा की ओर आ रहे अबुल-फजल की रास्ते में वीर सिंह बुंदेला नामक सरदार ने हत्या कर दी थी.

मुगल सम्राट अकबर ने अनुवाद विभाग की स्थापना की थी. नकीब खां, अब्दुल कादिर बंदायूनी तथा शेख सुल्तान ने रामायण व महाभारत का फारसी में अनुवाद किया व महाभारत का नाम रज्मनामा रखा गया था.

यह भी देखे :- अकबर का शासन काल part 1 | Akbar’s reign

पंचतंत्र का फारसी में अनुवाद अबुल फजल ने अनवर-ए-सादात के नाम से तथा मौलाना हुसैन फैज ने यार-ए-दानिश नाम से किया था. हाजी इब्राहिम सरहदी ने अर्थववेद का , मुल्लाशाह मोहम्मद ने राजतरंगिणी का, अब्दुर्रहीम खानखाना ने तुजुक-ए-बाबरी का तथा फैजी ने लीलावती का फारसी में अनुवाद किया था.

अकबर का शासन काल part 3 | Akbar’s reign
अकबर का शासन काल part 3 | Akbar’s reign

फैजी ने नल दमयंती कथा का फारसी में अनुवाद कर उसका नाम सहेली रखा था. भागवत पुराण का फारसी में अनुवाद टोडरमल ने किया था. अब्दुल कादिर बंदायूनी ने सिंहासन बत्तीसी का अनुवाद फारसी में किया था. ज्योतिष के प्रसिद्ध ग्रन्थ तजक व तुजुक का फारसी में अनुवाद जहान-ए-जफर नाम से मुहम्मद खां गुजराती ने किया था.

बुलंद दरवाजा का निर्माण अकबर ने गुजरात विजय के उपलक्ष्य में करवाया था. चार बाग़ बनाने की परंपरा अकबर के समय में शुरू हुई थी. अकबर ने शीरी कलम की उपाधि अब्दुस्समद को व जड़ी कलम की उपाधि मुहम्मद हुसैन कश्मीरी को दी थी. मुगलों की राजकीय भाषा फारसी थी. अकबर नक्कारा [नामक वाद्ययंत्र बजता था.

यह भी देखे :- शिवाजी के उत्तराधिकारी part 2 | Shivaji’s successor

अकबर का शासन काल part 3 FAQ

Q 1. किसके काल में स्वामी हरिदास एक महान संगीतज्ञ थे?

Ans अकबर के काल में स्वामी हरिदास एक महान संगीतज्ञ थे.

Q 2. हरिदास कहाँ रहकर भगवान की उपासना करते थे?

Ans हरिदास वृन्दावन में रहकर भगवान की उपासना करते थे.

Q 3. अकबर ने भगवानदास को कौनसी उपाधि दी थी?

Ans अकबर ने भगवानदास को अमीर-ए-उमरा की उपाधि दी थी.

Q 4. किनके विद्रोह को दबाने के दौरान बीरबल की मृत्यु हो गई थी?

Ans युसुफजाइयो के विद्रोह को दबाने के दौरान बीरबल की मृत्यु हो गई थी.

Q 5. किसके निर्देश पर दक्षिण से आगरा की ओर आ रहे अबुल-फजल की रास्ते में हत्या कर दी थी?

Ans सलीम के निर्देश पर दक्षिण से आगरा की ओर आ रहे अबुल-फजल की रास्ते में हत्या कर दी थी.

Q 6. अबुल-फजल की हत्या कब कर दी थी?

Ans 1602 ई. में अबुल-फजल की हत्या कर दी थी.

Q 7. अबुल-फजल की हत्या किसने कर दी थी?

Ans अबुल-फजल की वीर सिंह बुंदेला नामक सरदार ने हत्या कर दी थी.

Q 8. किस मुगल सम्राट ने अनुवाद विभाग की स्थापना की थी?

Ans मुगल सम्राट अकबर ने अनुवाद विभाग की स्थापना की थी.

Q 9. रामायण व महाभारत का फारसी में अनुवाद किसने किया था?

Ans नकीब खां, अब्दुल कादिर बंदायूनी तथा शेख सुल्तान ने रामायण व महाभारत का फारसी में अनुवाद किया था.

Q 10. फारसी में अनुवाद के दौरान महाभारत का क्या नाम रखा गया था?

Ans फारसी में अनुवाद के दौरान महाभारत का नाम रज्मनामा रखा गया था.

Q 11. पंचतंत्र का फारसी में अनुवाद किसने व किस नाम से किया था?

Ans पंचतंत्र का फारसी में अनुवाद अबुल फजल ने अनवर-ए-सादात के नाम से किया था.

Q 12. अर्थववेद का फारसी में अनुवाद किसने किया था?

Ans अर्थववेद का फारसी में अनुवाद हाजी इब्राहिम सरहदी ने किया था.

Q 13. भागवत पुराण का फारसी में अनुवाद किस ने किया था?

Ans भागवत पुराण का फारसी में अनुवाद टोडरमल ने किया था.

Q 14. बुलंद दरवाजा का निर्माण अकबर ने किस विजय के उपलक्ष्य में करवाया था?

Ans बुलंद दरवाजा का निर्माण अकबर ने गुजरात विजय के उपलक्ष्य में करवाया था.

Q 15. चार बाग़ बनाने की परंपरा किसके समय में शुरू हुई थी?

Ans चार बाग़ बनाने की परंपरा अकबर के समय में शुरू हुई थी.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

अकबर का शासन काल part 3

यह भी देखे :- शिवाजी के उत्तराधिकारी part 1 | Shivaji’s successor

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published.