अकबर का शासन काल part 1 | Akbar’s reign

अकबर का शासन काल part 1 | Akbar’s reign | सम्राट अकबर का जन्म 15 अक्टूबर 1542 ई. को हमीदा बानू बेगम के गर्भ से अमरकोट के राणा वीर साल के महल में हुआ था

अकबर का शासन काल part 1 | Akbar’s reign

अकबर का राज्याभिषेक 14 फरवरी 1556 ई. को पंजाब के कलानौर नामक स्थान पर हुआ था. अकबर का शिक्षक अब्दुल लतीफ़ ईरानी विद्वान था.

अकबर जलालुद्दीन मुहम्मद अकबर बादशाही गाजी की उपाधि से राजगद्दी पर बैठा था. बैरम खां 1556 ई. से 1560 ई. तक अकबर का संरक्षक रहा था. यह बदख्शां का निवासी था. उसे प्यार इस “खानी बाबा”कहा जाता था.

पानीपत की दूसरी लड़ाई 5 नवम्बर 1556 ई. को हेमू व अकबर के मध्य हुई थी. इस युद्ध में अकबर की विजय हुई थी. 31 जनवरी 1561 ई. को मक्का की तीर्थ यात्रा के दौरान मुबारक खां नामक युवक ने बैरम खां की हत्या कर दी थी.

यह भी देखे :- शिवाजी के उत्तराधिकारी part 2 | Shivaji’s successor

मई 1562 ई. में अकबर ने हरम-दल को अपने से पुर्णतः मुक्त कर दिया था. हल्दीघाटी का युद्ध 18 जून 1576 ई. को मेवाड़ के शासक महाराणा प्रताप व अकबर के मध्य हुआ था. इस युद्ध में महाराणा प्रताप विजयी हुए थे. इस युद्ध में मुगल सेना का नेतृत्व मान सिंह व आसफ खां ने किया था. अकबर का सेनापति मानसिंह था.

See also  बंधुआ मजदूरी

हल्दीघाटी युद्ध के समय कुम्भलगढ़ राणा प्रताप की राजधानी थी. राणा की ओर से इस युद्ध में हाकिम खां सूर के नेतृत्व में एक अफगान फौज टुकड़ी व भीलों की एक छोटी सी सेना ने भाग लिया था. महाराणा प्रताप के हाथी का नाम राम प्रसाद व घोड़े का नाम चेतक था.

अकबर का शासन काल part 1 | Akbar's reign
अकबर का शासन काल part 1 | Akbar’s reign

दीन-ए-इलाही धर्म का प्रधान पुरोहित अकबर था. दीन-ए-इलाही धर्म स्वीकार करने वाला प्रथम व अंतिम हिन्दू शासक बीरबल था. महेशदास नामक ब्राह्मण को राजा बीरबल की पदवी दी गई थी जो हमेशा अकबर के साथ रहता था.

यह भी देखे :- शिवाजी के उत्तराधिकारी part 1 | Shivaji’s successor

अकबर ने जैनधर्म के जैनाचार्य हरिविजय सूरी को जगतगुरु की उपाधि प्रदान की थी. अकबर ने शाही दरबार में एक अनुष्ठान के रूप में सुर्यौपसना शुरू करवाई थी. राजव प्राप्ति की जब्ती प्रणाली अकबर के शासनकाल में प्रचलित थी. अकबर के दीवान राजा टोडरमल ने 1580 ई. में दहसाल बंदोबस्त व्यवस्था लागु की थी.

अकबर के दरबार का प्रसिद्ध संगीतकार तानसेन था. अकबर के दरबार का प्रसिद्ध चित्रकार अब्दुर समद था. दसवंत व बसावन अकबर के दरबार के चित्रकार थे. अकबर के शासनकाल के प्रमुख गायक तानसेन, बाज बहादुर, बाबा रामदास व बैजू बाबरा थे. अकबर की शासन प्रणाली की प्रमुख विशेषता मनसबदारी प्रथा थी. अकबर के समकालीन प्रसिद्ध सूफी संत शेख सलीम चिश्ती थे.

अकबर की मृत्यु 16 अक्टूबर 1605 ई. में हुई थी. इसे आगरा के निकट सिकंदरा में दफनाया गया था.

यह भी देखे :- मराठों की शासन व्यवस्था | Maratha rule

अकबर का शासन काल part 1 FAQ

Q 2. अकबर का जन्म कहाँ हुआ था?

Ans अकबर का जन्म ”अमरकोट के राणा वीर साल के महल” में हुआ था.

Q 3. अकबर की माता का नाम क्या था?

Ans अकबर की माता का नाम ”हमीदा बानू बेगम” था.

Q 4. अकबर के पिता का नाम क्या था?

Ans अकबर के पिता का नम ”हुमायूँ” था.

Q 5. अकबर का राज्याभिषेक कब हुआ था?

Ans अकबर का राज्याभिषेक “14 फरवरी 1556 ई.” को हुआ था.

Q 6. इसका राज्याभिषेक कहाँ हुआ था?

Ans इसका राज्याभिषेक “पंजाब के कलानौर” नामक स्थान पर हुआ था.

Q 7. अकबर का शिक्षक कौन था?

Ans अकबर का शिक्षक “अब्दुल लतीफ़” था

Q 8. अकबर किस उपाधि से राजगद्दी पर बैठा था?

Ans अकबर जलालुद्दीन मुहम्मद अकबर बादशाही गाजी की उपाधि से राजगद्दी पर बैठा था.

Q 9. बैरम खां कब तक अकबर का संरक्षक रहा था?

Ans बैरम खां 1556 ई. से 1560 ई. तक अकबर का संरक्षक रहा था.

Q 10. पानीपत की दूसरी लड़ाई कब व किसके मध्य हुई थी?

Ans पानीपत की दूसरी लड़ाई 5 नवम्बर 1556 ई. को हेमू व अकबर के मध्य हुई थी.

See also  मध्यकालीन सेवक जातियाँ
Q 11. बैरम खां की हत्या कब व किसने की थी?

Ans 31 जनवरी 1561 ई. को मक्का की तीर्थ यात्रा के दौरान मुबारक खां नामक युवक ने बैरम खां की हत्या कर दी थी.

Q 12. अकबर ने हरम-दल को अपने से पुर्णतः मुक्त कब कर दिया था?

Ans मई 1562 ई. में अकबर ने हरम-दल को अपने से पुर्णतः मुक्त कर दिया था.

Q 13. हल्दीघाटी का युद्ध कब व किन-किन के मध्य हुआ था?

Ans हल्दीघाटी का युद्ध 18 जून 1576 ई. को मेवाड़ के शासक महाराणा प्रताप व अकबर के मध्य हुआ था.

Q 14. दीन-ए-इलाही धर्म स्वीकार करने वाला प्रथम व अंतिम हिन्दू शासक कौन था?

Ans दीन-ए-इलाही धर्म स्वीकार करने वाला प्रथम व अंतिम हिन्दू शासक बीरबल था.

Q 15. अकबर की मृत्यु कब हुई थी? इसे कहाँ दफनाया गया था?

Ans अकबर की मृत्यु 16 अक्टूबर 1605 ई. में हुई थी. इसे आगरा के निकट सिकंदरा में दफनाया गया था.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- गुलाम वंश part 1 | slave dynasty

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment