पंजाब का इतिहास | History of Punjab

पंजाब का इतिहास | History of Punjab | पंजाब उत्तर पश्चिम भारत का एक राज्य है. इसका दूसरा भाग पाकिस्तान में स्थित है. इसकी राजधानी चंडीगढ़ है, जो की हरियाणा की भी राजधानी है

पंजाब का इतिहास | History of Punjab

पंजाब उत्तर पश्चिम भारत का एक राज्य है. इसका दूसरा भाग पाकिस्तान में स्थित है. इसकी राजधानी चंडीगढ़ है, जो की हरियाणा की भी राजधानी है. पंजाब के अन्य भाग हरियाणा तथा हिमाचल प्रदेश में है.

इसके पश्चिम में पाकिस्तानी पंजाब, उत्तर-पूर्व में हिमाचल प्रदेश, उत्तर में जम्मू तथा कश्मीर, दक्षिण और दक्षिण पूर्व में हरियाणा, दक्षिण-पूर्व में केन्द्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ तथा दक्षिणी-पश्चिम में राजस्थान राज्य स्थित है. 1947 में भारत विभाजन के पश्चात् बर्तानवी भारत के पंजाब सूबे को भारत तथा पाकिस्तान दरमियान विभाजन दिया गया था.

1966 ई. में पंजाब का विभाजन फिर से हो गया तथा नतीजे के तौर पर हरियाणा तथा हिमाचल प्रदेश वजूद में आए तथा पंजाब का मौजूदा राज्य बना. यह भारत का अकेला सूबा है जहाँ सिख बहुमत में है.

नाम की उत्पति

पंजाब शब्द फारसी भाषा के शब्द पंज तथा आब से मिलकर बना है. इसका अर्थ है पांच नदियों का क्षेत्र. यह फारसी शब्द संस्कृत के पञ्चनाद शब्द से निकला है. यह पांच नदियाँ सतलुज, व्यास, रावी, चिनाब तथा झेलम है.

यह भी देखे :- ओडिशा का इतिहास

पंजाब का इतिहास

पंजाब शब्द का सबसे पहले उल्लेख इब्नबतूता के उल्लेख में मिलता है, जिसने 14वीं शताब्दी में यहाँ यात्रा की थी. इस शब्द का 16वीं शताब्दी के उत्तरार्द्ध में व्यापक उपयोग होने लगा था. इस शब्द का प्रयोग तारिख-ए-शेरशाही सूरी नामक किताब में किया गया है, जिसमें पंजाब के शेरखान द्वारा एक किले के निर्माण का उल्लेख किया गया है.

पंजाब के संस्कृत समकक्षों का प्रथम उल्लेख ऋग्वेद में सप्त सिन्धु के रूप में होता है. यह नाम फिर से आइन-ए-अकबरी {भाग 1} में लिखा गया है. इसे अबुल फजल ने लिखा था.उन्होंने यह भी उल्लेख किया है की पंजाब का क्षेत्र दो प्रान्तों में विभाजित है : लाहौर तथा मुल्तान.

इसी तरह आइन-ए-अकबरी के दुसरे खंड में एक अध्याय का शीर्षक इसमें पंजाब भी सम्मलित है. मुगल शासक जहाँगीर ने तुज-ए-जान्हगेरी में भी पंजाब शब्द का लेखन किया गया है. पंजाब जो फारसी भाषा की उत्पत्ति है तथा भारत में तुर्की आक्रमणकारियों के द्वारा प्रयोग किया जाता था.

पंजाब का इतिहास | History of Punjab
पंजाब का इतिहास | History of Punjab

अपनी उपज भूमि के कारण इसे ब्रिटिश भारत का भंडारगृह बनाया गया था. स्वतंत्रता आन्दोलन के समय में गांधीजी के आगमन से पहले ही ब्रिटिश शासन के खिलाफ संघर्ष आरंभ हो चूका था. देश की आजादी के बाद पंजाब को विभाजन की विभीषिका का सामना करना पड़ा जिसमें बड़े पैमाने पर रक्तपात तथा विस्थापन हुआ था.

यह भी देखे :- नागालैण्ड का इतिहास

पूर्वी पंजाब की आता रियासतों को मिलाकर नए राज्य “पेप्सू” तथा “पूर्वी पंजाब राज्य संघ पटियाला” का निर्माण किया गया. पटियाला को इसकी राजधानी बनाया गया था. 1956 ई. में पेप्सू को पंजाब में मिला दिया गया था. बाद में पंजाब सूबा आन्दोलन के कारण 1966 में पंजाब के कुछ हिस्से निकल कर हरियाणा राज्य का निर्माण किया गया.

  • पंजाब का क्षेत्रफल 50,362 वर्ग किलोमीटर है.
  • पंजाब की कुल जनसंख्या 2,77,43,336 है.
  • पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ है.
  • पंजाब में 22 जिले है.
  • पंजाब एक कृषि प्रधान राज्य है.
  • यहाँ गेहूं की फसल सबसे अधिक बिजाई जाती है.
यह भी देखे :- मिजोरम का इतिहास

पंजाब का इतिहास FAQ

Q 1. पंजाब भारत से किस दिशा में स्थित है?

Ans पंजाब भारत से उत्तर पश्चिम में स्थित है.

Q 2. पंजाब का दूसरा भाग कहाँ स्थित है?

Ans पंजाब का दूसरा भाग पाकिस्तान में स्थित है.

Q 3. पंजाब की राजधानी कहाँ स्थित है?

Ans पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ है.

Q 4. चंडीगढ़ और किस राज्य की भी राजधानी है?

Ans चंडीगढ़ हरियाणा की भी राजधानी है.

Q 5. पंजाब शब्द किन-किन फारसी भाषा के शब्द से मिलकर बना है?

Ans पंजाब शब्द फारसी भाषा के शब्द पंज तथा आब से मिलकर बना है.

Q 6. पंजाब का अर्थ क्या है?

Ans पंजाब का अर्थ “पांच नदियों का क्षेत्र” है.

Q 7. पंजाब शब्द का सबसे पहले उल्लेख किसके उल्लेख में मिलता है?

Ans पंजाब शब्द का सबसे पहले उल्लेख इब्नबतूता के उल्लेख में मिलता है.

Q 8. पंजाब का क्षेत्रफल कितना है?

Ans पंजाब का क्षेत्रफल 50,362 वर्ग किलोमीटर है.

Q 9. पंजाब की कुल जनसंख्या कितनी है?

Ans पंजाब की कुल जनसंख्या 2,77,43,336 है.

Q 10. पंजाब में कितने जिले है?

Ans पंजाब में 22 जिले है

लेख को पूरा पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद | अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने रिश्तेदारों व मित्रों के साथ में शेयर करना मत भूलना…..

यह भी देखे :- महाराष्ट्र का इतिहास 

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

1 Comment

  1. Sir aapne Punjab ke baare me bahut hi achhi jankari share kiya hai aap aise hi useful jankari any jilon ke baare me bhi batayiye

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *