जर्मनी का एकीकरण | unification of germany

जर्मनी का एकीकरण | unification of germany | जर्मनी का एकीकरण बिस्मार्क ने किया था. बिस्मार्क प्रशा के शासक विलियम प्रथम का प्रधानमंत्री था. जर्मनी का सबसे शक्तिशाली राज्य प्रशा था

जर्मनी का एकीकरण | unification of germany

जर्मनी का एकीकरण बिस्मार्क ने किया था. बिस्मार्क प्रशा के शासक विलियम प्रथम का प्रधानमंत्री था. जर्मनी का सबसे शक्तिशाली राज्य प्रशा था. बिस्मार्क जर्मनी का एकीकरण प्रशा के नेतृत्व में चाहता था. विलियम को जर्म संघ के सम्राट का ताज 8 फरवरी 1871 ई. को पहनाया गया था.

यह भी देखे :- इटली का एकीकरण क्या है | unification of italy
  • बिस्मार्क का सबसे अधिक भय फ़्रांस से था.
  • जर्मनी में राष्ट्रीयता का संदेशवाहक नेपोलियन बोनापार्ट को माना जाता था.
  • जर्मनी के आर्थिक राष्ट्रवाद का पिता फ्रेडरिक लिस्ट को माना जाता है.
  • जर्मनी राष्ट्रिय सभा को डायट के नाम से जाना जाता था, यह सभा फ्रैंकफर्ट में होती थी.
  • 1815 ई. से 1850 ई. के बीच जर्मन साम्राज्य पर आस्ट्रिया का आधिपत्य था.
  • आस्ट्रिया का चान्सलर मेटरनिख था.

एकीकृत जर्मन के निर्माण में राके, बोमर, लसर आदि दार्शनिकों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. फ्रैंकफर्ट संविधान सभा का गठन मई 1848 ई. में किया गया था. विलियम प्रथम के शासनकाल में प्रशा का रक्षामंत्री वानरून व सेनापति वान माल्टेक था. 23 सितम्बर 1862 ई. को बिस्मार्क प्रशा का चांसलर बना था.

यह भी देखे :- सिख धर्म के गुरु | Guru of Sikhism

बिस्मार्क का जन्म 1 अप्रैल 1815 ई. को ब्रेडनबर्ग में हुआ था. विलियम प्रथम ने बिस्मार्क को बाजीगर कहा था. सेरेजोवा के युद्ध में 1866 ई. में आस्ट्रिया ने प्रशा के आगे आत्मसमर्पण कर दिया था. 23 अगस्त 1866 ई. को प्राग संधि के तहत जर्मन संघ में आस्ट्रिया सम्मलित हुआ था.

See also  चीनी क्रांति | Chinese revolution

फ़्रांस व प्रशा के मध्य सेडान का युद्ध 15 जुलाई 1870 ई. को हुआ था. नेपोलियन तृतीय ने प्रशा के आगे 1 सितम्बर 1870 ई. को आत्मसमर्पण कर दिया था. बिस्मार्क ने जर्मनी के सम्राट विलियम प्रथम का राज्याभिषेक वर्साय के राजमहल में संपन्न करवाया.

फ्रैंकफर्ट की संधि 10 मई 1871 ई. को फ़्रांस व प्रशा के मध्य हुई थी. सूडान के त्य्द्ध के बाद जर्मनी का एकीकरण संभव हो पाया था.

यह भी देखे :- सिक्ख तथा अंग्रेज part 2 | Sikh and English

जर्मनी का एकीकरण FAQ

Q 1. जर्मनी का एकीकरण किसने किया था?

Ans जर्मनी का एकीकरण बिस्मार्क ने किया था.

Q 2. प्रशा के शासक विलियम प्रथम का प्रधानमंत्री कौन था?
See also  पुनर्जागरण | Renaissance

Ans बिस्मार्क प्रशा के शासक विलियम प्रथम का प्रधानमंत्री था.

Q 3. जर्मनी का सबसे शक्तिशाली राज्य कौनसा था?

Ans जर्मनी का सबसे शक्तिशाली राज्य प्रशा था.

Q 4. बिस्मार्क जर्मनी का एकीकरण किसके नेतृत्व में चाहता था?

Ans बिस्मार्क जर्मनी का एकीकरण प्रशा के नेतृत्व में चाहता था.

Q 5. विलियम को जर्म संघ के सम्राट का ताज कब पहनाया गया था?

Ans विलियम को जर्म संघ के सम्राट का ताज 8 फरवरी 1871 ई. को पहनाया गया था.

Q 6. बिस्मार्क का सबसे अधिक भय किस देश से था?

Ans बिस्मार्क का सबसे अधिक भय फ़्रांस से था.

Q 7. जर्मनी में राष्ट्रीयता का संदेशवाहक किसको माना जाता था?

Ans जर्मनी में राष्ट्रीयता का संदेशवाहक नेपोलियन बोनापार्ट को माना जाता था.

Q 8. जर्मनी के आर्थिक राष्ट्रवाद का पिता किसको माना जाता है?

Ans जर्मनी के आर्थिक राष्ट्रवाद का पिता फ्रेडरिक लिस्ट को माना जाता है.

Q 9. जर्मनी राष्ट्रिय सभा को किस नाम से जाना जाता था, यह सभा कहाँ होती थी?

Ans जर्मनी राष्ट्रिय सभा को डायट के नाम से जाना जाता था, यह सभा फ्रैंकफर्ट में होती थी.

Q 10. 1815 ई. से 1850 ई. के बीच जर्मन साम्राज्य पर किसका आधिपत्य था?
See also  फ्रांस की राज्यक्रांति | French Revolution

Ans 1815 ई. से 1850 ई. के बीच जर्मन साम्राज्य पर आस्ट्रिया का आधिपत्य था.

Q 11. आस्ट्रिया का चान्सलर कौन था?

Ans आस्ट्रिया का चान्सलर मेटरनिख था.

Q 12. फ्रैंकफर्ट संविधान सभा का गठन कब किया गया था?

Ans फ्रैंकफर्ट संविधान सभा का गठन मई 1848 ई. में किया गया था.

Q 13. विलियम प्रथम के शासनकाल में प्रशा का रक्षामंत्री व सेनापति कौन था?

Ans विलियम प्रथम के शासनकाल में प्रशा का रक्षामंत्री वानरून व सेनापति वान माल्टेक था.

Q 14. बिस्मार्क का जन्म कब व कहाँ हुआ था?

Ans बिस्मार्क का जन्म 1 अप्रैल 1815 ई. को ब्रेडनबर्ग में हुआ था.

Q 15. फ्रैंकफर्ट की संधि कब व किन-किन के मध्य हुई थी?

Ans फ्रैंकफर्ट की संधि 10 मई 1871 ई. को फ़्रांस व प्रशा के मध्य हुई थी.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी इस आर्टिकल से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :-सिक्ख तथा अंग्रेज part 1 | Sikh and English

Follow on Social Media


केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Comment