ऋग्वेद क्या है | What is Rigveda

ऋग्वेद क्या है | What is Rigveda | प्राचीन भारत के पवित्र साहित्य वेद हैं जो हिन्दुओं का आधारभूत धर्मग्रन्थ भी हैं। विश्व के सबसे प्राचीन साहित्य वेद हैं। भारतीय संस्कृति में वेद सबसे प्राचीन ग्रन्थ और सनातन धर्म का मूल हैं

ऋग्वेद क्या है

प्राचीन भारत के पवित्र साहित्य वेद हैं जो हिन्दुओं का आधारभूत धर्मग्रन्थ भी हैं। विश्व के सबसे प्राचीन साहित्य वेद हैं। भारतीय संस्कृति में वेद सबसे प्राचीन ग्रन्थ और सनातन धर्म का मूल हैं।

अन्य तीन वेदों की रचना ऋग्वेद से ही हुई है. ऋग्वेद पद्यात्मक है. यूनेस्को में वेद की 1800 से 1500 ई.पू. की लगभग 30 पांडुलिपियों को सांस्कृतिक धरोहरों की सूची में सम्मलित किया था. ऋग्वेद का लेखन सम्भवतः सप्त-सैंधव प्रदेश में हुआ था. इस वेद के मन्त्रों व ऋचाओं का लेखन किसी एक ऋषि ने एक निश्चित समय में नहीं, बल्कि विभिन्न काल में विभिन्न ऋषियों द्वरा इस वेद का लेखन किया गया है.

वेद के प्रकार

  1. ऋग्वेद
  2. यजुर्वेद
  3. सामवेद
  4. अथर्ववेद
यह भी देखे :- यजुर्वेद क्या है | What is yajurved
ऋग्वेद क्या है | What is Rigveda
ऋग्वेद क्या है | What is Rigveda
  1. ऋग्वेद
    1. ऋचाओं के क्रमबद्ध ज्ञान को ऋग्वेद कहा गया है.
      1. ऋग्वेद में 10 मंडल व 1028 सूक्त एवं 10462 ऋचाएं है.
      2. ऋग्वेद की ऋचाएं को पढ़ने वाले ऋषि को होतृ कहा जाता है.
      3. ऋग्वेद से आर्यों के इतिहास, राजनीतिक प्रणाली व इश्वर की महिमा के बारे में जानकारी मिलाती है.
    2. विश्वामित्र द्वारा रचित ऋग्वेद के तीसरे मंडल में सूर्य देवता सावित्री को समर्पित प्रसिद्ध गायत्री मंत्र है. इसके नौवे मंडल में देवता सोम का उल्लेख है.
    3. ऋग्वेद के आंठवे मंडल की हस्त लिखित ऋचाओं को खिल कहा जाता है.
    4. चातूष्वर्ण्य समाज की कल्पना का आदि स्त्रोत पुरुषसूक्त है जो की ऋग्वेद के 10 वे मंडल में वर्णित है. जिसके अनुसार चार वर्ण ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य व शुद्र आदि पुरुष जिनका निर्माण ब्रह्मा के क्रमशः मुख, भुजाओं, जंघाओं व चरणों से हुआ था.
    5. ऋग्वेद के कई परिच्छेदों में प्रयुक्त अधन्य शब्द का संबंध गाय से है.
यह भी देखे :- सामवेद क्या है | What is samveda

ऋग्वेद क्या है FAQ

Q 1. प्राचीन भारत के पवित्र साहित्य क्या है?

Ans प्राचीन भारत के पवित्र साहित्य वेद हैं.

Q 2. हिन्दुओं का आधारभूत धर्मग्रन्थ क्या है?

Ans हिन्दुओं का आधारभूत धर्मग्रन्थ वेद है.

Q 3. विश्व के सबसे प्राचीन साहित्य क्या है?

Ans विश्व के सबसे प्राचीन साहित्य वेद हैं.

Q 4. भारतीय संस्कृति में सबसे प्राचीन ग्रन्थ कौनसा है?

Ans भारतीय संस्कृति में वेद सबसे प्राचीन ग्रन्थ हैं.

Q 5. भारतीय संस्कृति में सनातन धर्म का मूल क्या हैं?

Ans भारतीय संस्कृति में वेद सनातन धर्म का मूल हैं.

Q 6. अन्य तीन वेदों की रचना किससे हुई है?

Ans अन्य तीन वेदों की रचना ऋग्वेद से ही हुई है.

Q 7. ऋग्वेद पद्य है या गद्य?

Ans ऋग्वेद पद्यात्मक है.

Q 8. यूनेस्को ने वेद की 1800 से 1500 ई.पू. की लगभग कितनी पांडुलिपियों को सांस्कृतिक धरोहरों की सूची में सम्मलित किया था?

Ans यूनेस्को में वेद की 1800 से 1500 ई.पू. की लगभग 30 पांडुलिपियों को सांस्कृतिक धरोहरों की सूची में सम्मलित किया था.

Q 9. ऋग्वेद का लेखन सम्भवतः कहाँ हुआ था?

Ans ऋग्वेद का लेखन सम्भवतः सप्त-सैंधव प्रदेश में हुआ था.

Q 10. ऋग्वेद किसे कहा गया है?

Ans ऋचाओं के क्रमबद्ध ज्ञान को ऋग्वेद कहा गया है.

Q 11. ऋग्वेद में कितने मंडल, सूक्त एवं ऋचाएं है?

Ans ऋग्वेद में 10 मंडल व 1028 सूक्त एवं 10462 ऋचाएं है.

Q 12. ऋग्वेद की ऋचाएं को पढ़ने वाले ऋषि को क्या कहा जाता है?

Ans ऋग्वेद की ऋचाएं को पढ़ने वाले ऋषि को होतृ कहा जाता है.

Q 13. ऋग्वेद से किस-किस के बारे में जानकारी मिलाती है?

Ans ऋग्वेद से आर्यों के इतिहास, राजनीतिक प्रणाली व इश्वर की महिमा के बारे में जानकारी मिलाती है.

Q 14. ऋग्वेद के आंठवे मंडल की हस्त लिखित ऋचाओं को क्या कहा जाता है?

Ans ऋग्वेद के आंठवे मंडल की हस्त लिखित ऋचाओं को खिल कहा जाता है.

Q 15. ऋग्वेद के कई परिच्छेदों में प्रयुक्त अधन्य शब्द का संबंध किससे है?

Ans ऋग्वेद के कई परिच्छेदों में प्रयुक्त अधन्य शब्द का संबंध गाय से है.

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद.. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आया तो इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों व अन्य लोगों के साथ शेयर करना मत भूलना ताकि वे भी ऋग्वेद से संबंधित जानकारी को आसानी से समझ सके.

यह भी देखे :- अथर्ववेद क्या है | What is Atharvaveda

केटेगरी वार इतिहास


प्राचीन भारतमध्यकालीन भारत आधुनिक भारत
दिल्ली सल्तनत भारत के राजवंश विश्व इतिहास
विभिन्न धर्मों का इतिहासब्रिटिश कालीन भारतकेन्द्रशासित प्रदेशों का इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published.